बाल विकास(CDP) के महत्वपूर्ण कथन

बाल विकास(CDP) के महत्वपूर्ण कथन 

इस पोस्ट में बाल विकास(CDP ) के महत्वपूर्ण कथन है जो की UPTET,CTET and other state tet  में आते है|

बाल विकास(CDP)-के-महत्वपूर्ण-कथन


1.बाल मनोविज्ञान वह वैज्ञानिक अध्ययन है जो व्यक्ति के विकास का अध्ययन गर्भ काल के प्रारंभ से किशोरावस्था की प्रारंभिक अवस्था तक करता है|--- क्रो एवं क्रो

2.बाल मनोविज्ञान मनोविज्ञान की वह शाखा है इसमें जन्म से परिपक्व अवस्था तक विकसित हो रहे मनुष्य का अध्ययन किया जाता है---- ड्रेवर

3.बुद्धि कार्य करने की विधि है ---वुड वर्थ

4.व्यक्तिगत एवं व्यक्ति के गठन व्यापार के तरीकों ,रुचिओं ,दृष्टिकोण, छमताओ और तरीकों का सबसे विशिष्ट संगठन है ---मन

5.व्यक्तिगत विभिन्नता में संपूर्ण व्यक्तित्व का कोई भी ऐसा पहलू सम्मिलित हो सकता है जिसका माप किया जा सकता है |---स्किनेर

6.कल्पना दूरस्थ वस्तुओं के संबंध का चिंतन है|--मकड़ुग्गल

7.चिंतन एक प्रकार का अव्यक्त एवं रहस्य पूर्ण व्यवहार होता है जिसमें सामान्य रूप से प्रतीकों का प्रयोग होता है ---गेरेट

8.मन में किसी उद्देश्य एवं लाभ को रखकर क्रमानुसार चिंतन करना तर्क है---गेरेट

9.वंशानुक्रम माता-पिता से संतान को प्राप्त करने वाले गुणों का नाम है--रूथ बेनाएडिक्ट

10. मेंडल का नियम प्रत्यागमन को स्पष्ट करता है---मेंडल

11.बुद्धि इन चार शब्दों में निहित है ज्ञान, आविष्कार, निर्देश, आलोचना -बिने

12.बुद्धि वह शक्ति है जो हमको समस्याओं का समाधान करने और उदरेश्मों को प्राप्त करने की क्षमता देती है।-रायबन

13.बुद्धि समायोजन, अधिगम और अमृत चिंतन की योग्यता है ।-फ्रीमैन 

14.बच्चा  को  जो  कुछ बनना होता है  वह शुरुवाती 4 - 5  वर्षो  में बन  जाता है। -सिग्मंड फ्रायड 

15 ."मुझे नवजात शिशु दे दो। मैं उसे डॉक्टर, वकील, चोर या जो चाहूँ बना सकता हूँ।" -वाटसन 

16  "बाल मनोविज्ञान एक वैज्ञानिक अध्ययन है, जिसमें बालक के जन्म के पूर्व काल से लेकर उसकी किशोरावस्था तक का अध्ययन किया जाता है।"-.क्रो एवं क्रो ने 

17 ."शिक्षा एक त्रिध्रुवीय प्रणाली है, जिसके अन्तर्गत शिक्षा, बालक एवं पाठ्यक्रम आते हैं ।"-जॉन डीवी. 

18 ."विस्मरण वह प्रवृत्ति है, जिसके द्वारा दुःखद अनुभवों को स्मृति से अलग कर दिया जाता है।"-सिग्मंड फ्रायड

19  "बालक का विकास आनुवंशिकता तथा वातावरण का गुणनफल है।"-वुडवर्थ 

20 .“चिंतन संज्ञानात्मक पक्ष में एक मानसिक क्रिया है।-रॉस 

21. “बालक एक ऐसी पुस्तक शिक्षक को अद्योपान्त अध्ययन करना चाहिए।"-रूसो

22.'संवेग व्यक्ति की उत्तेजित दशा है'-वुडवर्थ 

23.मनोविज्ञान शिक्षा का आधारभूत विज्ञान है-स्किनर

24.किशोरावस्था बडे सघर्ष, तनाव व तुफान की अवस्था है।-स्टेनले हॅाल

25.मनोविज्ञान व्यवहार का शुद्ध  ,निश्चित ,सकारात्मक विज्ञान है ।-वाटसन 


TELEGRAM LINK:-

👉Join Here – PDF Other Study Material पाने के लिये अब आप हमारे Telegram Channel को Join कर सकते हैं |👈